देश

national

आयुर्वेद में दूध-केला है 'जहरीला कॉम्बिनेशन'

Saturday, February 5, 2022

/ by इंडेविन टाइम्स

वजन बढ़ाने और बॉडी बनाने के लिए लोग दूध और केले का सेवन करने की सलाह देते हैं। अक्सर आपने देखा होगा कि जिम लड़के वर्कआउट के बाद केला और दूध का सेवन करते हैं। दरअसल दूध और केले का कॉम्बिनेशन बचपन से हर किसी को पसंद रहा है।आपको दूध-केला एक साथ लेना स्वादिष्ट तरीका लग सकता है लेकिन विशेषज्ञों के अनुसार, बेशक केला और दूध दोनों चीजें बेहद पौष्टिक हैं लेकिन यह कॉम्बिनेशन सबसे अच्छा नहीं हो सकता है।

दरअसल दूध के फायदे अलग हैं। यह प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स जैसे कि राइबोफ्लेविन, कैल्शियम और विटामिन बी 12 से भरा होता है। प्रति 100 ग्राम दूध में 42 कैलोरी होती है। यह बात पूरी तरह ठीक नहीं है कि 'दूध एक संपूर्ण भोजन' है क्योंकि इसमें महत्वपूर्ण विटामिन विटामिन सी और फाइबर नहीं होते हैं। इसके अलावा इसमें बहुत कम कार्बोहाइड्रेट होते हैं। भारत जैसे देशों में प्रोटीन की आवश्यकता पूरी करने के लिए लोग दूध पर निर्भर रहते हैं।

अगर बात करें केले कि तो केले के फायदे अलग हैं। केला विटामिन बी 6, मैंगनीज, विटामिन सी, फाइबर, पोटेशियम और बायोटिन का बेहतर स्रोत है। इस मीठे फल के प्रत्येक 100 ग्राम में 89 कैलोरी होती है, इसलिए यह पेट पर भारी पड़ता है जो हमें लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराता है। कार्बोहाइड्रेट से भरपूर, केले को अक्सर वर्कआउट से पहले और बाद में एक बेहतरीन स्नैक माना जाता है।

केला-दूध एक साथ खाने से क्या होता है

दूध और केले का कॉम्बिनेशन आपको सुनने में अच्छा लग सकता है लेकिन ऐसा नहीं है। दरअसल यह दोनों चीजें एक-दूसरे के पोषक तत्वों की कमी को पूरा करती हैं। इन दोनों चीजों में एक जैसे पोषक तत्व नहीं होते हैं। ऐसा नहीं होने से कई समस्याएं हो सकती हैं।

दूध-केले से सेहत को होने वाले नुकसान

केला और दूध का एक साथ सेवन करने से न केवल पाचन तंत्र खराब होता है बल्कि यह भारी भी होता है जिससे साइनस की समस्या भी हो सकती है। इससे साइनस कंजेशन, पेट की गैस, सर्दी-खांसी और शरीर पर रैशेज जैसी अन्य एलर्जी हो जाती है। कई लोग मानते हैं कि दोनों का एक साथ सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याएं ठीक हो सकती हैं लेकिन ऐसा नहीं है, परिणाम इसके उलट है। इससे उल्टी और दस्त की समस्या हो सकती है।

क्या कहता है आयुर्वेद

आयुर्वेद के अनुसार, भोजन और तरल पदार्थ को एक साथ मिलाने का यह सिद्धांत सही विचार नहीं है। आयुर्वेदिक सिद्धांत के अनुसार, केला और दूध एक साथ शरीर में विषाक्तता पैदा कर सकते हैं, जिससे बहुत से शारीरिक कामकाज प्रभावित हो सकते हैं। इसके साथ ही आयुर्वेद में बताया गया है कि केला और दूध मिलकर शरीर में भारीपन पैदा कर सकते हैं और दिमाग के कामकाज को भी धीमा कर सकते हैं।

कैसे करें दूध और केले का सेवन

केला और दूध का सेवन करने का सबसे अच्छा तरीका अलग-अलग है। अगर आप इसका सेवन प्री वर्कआउट या पोस्ट वर्कआउट स्नैक के तौर पर करना चाहते हैं तो दूध का सेवन करने के 20 मिनट बाद केला खाएं। या यदि आप वास्तव में डेयरी उत्पाद के साथ इसका सेवन करना चाहते हैं तो आप अपने दही में केले को शामिल कर सकते हैं।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group