देश

national

यूपी में कल से शर्तों के साथ खुलेंगे 9वीं से ऊपर के स्कूल

लखनऊ 

कोरोना की तीसरी लहर की रफ्तार कम होने के बाद एक बार फिर प्रदेश में शैक्षणिक गतिविधियों को शुरू करने का निर्णय लिया गया है। कक्षा 9वीं से ऊपर के स्कूलों को खोला जा रहा है। हालांकि, नर्सरी से लेकर कक्षा आठवीं तक के स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया गया है। कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी  के बाद इसको देखते हुए अब स्कूल-कॉलेजों के खोले जाने के मसले पर चर्चा शुरू हो गई थी। कोरोना की रफ्तार धीमी पड़ने के बाद कई राज्य पाबंदियों में ढील देते हुए स्कूल-कॉलेज खोलनेलगे थे। इसको देखते सरकार ने भी इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है।

उत्तर प्रदेश गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने स्कूल और कॉलेजों को खोलने संबंधी आदेश जारी किया। उन्होंने सभी जोन के मंडलायुक्त और अपर पुलिस महानिदेशक को इस आदेश के संबंध में जानकारी दी है। इसके अलावा सभी जिलों पदाधिकारी को भी जानकारी दे दी गई है। आदेश में साफ कहा गया है कि कोरोना संक्रमण की दर में प्रभावी रूप से कमी आने के बाद इस संबंध में निर्णय लिया गया है। पहले जारी किए गए आदेशों को संशोधित करते हुए उन्होंने कक्षा 9 से लेकर 12वीं तक के स्कूलों को खोलने का आदेश जारी किया। इसके अलावा सभी डिग्री कॉलेजों को भी खोलने का आदेश जारी कर दिया है।

स्कूल-कॉलेजों में गाइडलाइन का अनुपालन

प्रदेश के स्कूल-कॉलेजों में कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन कराने का आदेश जारी किया गया है। मास्क को अनिवार्य बनाया गया है। शैक्षणिक संस्थानों में आने वाले शिक्षक, कर्मचारियों और छात्र-छात्राओं को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। इसके अलावा हर संस्थान में कोचिड हेल्प डेस्क की स्थापना करनी होगी। इसके साथ ही सरकार के स्तर पर समय-समय पर निर्गत आदेशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने का आदेश दिया गया है। अपर मुख्य सचिव ने 7 फरवरी के बाद अगले आदेश तक स्कूल-कॉलेजों को खोलने का आदेश दिया है। इसके साथ ही तय हो गया कि स्कूल और कॉलेजों में सोमवार से कक्षाएं लगेंगी।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group