देश

national

ममता सरकार ने 10वीं की बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए इंटरनेट सेवा पर लगायी पाबंदी

पश्चिम बंगाल 

पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य में 10वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं के दिन राज्य के कुछ हिस्सों में इंटरनेट सेवा पर अस्थाई रूप से पाबंदी लगाने का फैसला लिया है। एक अधिकारी ने बताया कि राज्य में सोमवार से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के मकसद से ऐसा किया जा रहा है।

पश्चिम बंगाल उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि माल्दा और मुर्शिदाबाद सहित विभिन्न जिलों में परीक्षाएं शुरू होने से एक घंटे के भीतर 2019 और 2020 में सोशल मीडिया मंचों पर प्रश्नपत्र लीक होने की पृष्ठभूमि में ऐसा किया जा रहा है। बोर्ड यह परीक्षा आयोजित करता है, लेकिन कोविड के कारण पिछले साल परीक्षा नहीं आयोजित की गई थी। एक अधिसूचना में कहा गया है कि खुफिया विभाग से सूचना मिली है कि अगले कुछ दिनों में गैरकानूनी काम (परीक्षा से जुड़े) के लिए इंटरनेट का दुरुपयोग किया जा सकता है।

अधिसूचना में हालांकि उन क्षेत्रों के नाम नहीं बताए गए हैं जहां यह प्रतिबंध लागू होगा। अधिकारी ने कहा कि जरूरत के हिसाब से फैसला किया जाएगा। हालांकि, फोन कॉल और एसएमएस सेवाओं पर रोक नहीं लगाई जाएगी। एक सूत्र के अनुसार, परीक्षा के दिनों में, पहले भी इंटरनेट सेवाओं को स्थगित कर दिया गया था, लेकिन इसकी घोषणा नहीं की गई थी। बोर्ड के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली ने कहा, "इस फैसले में बोर्ड की कोई भूमिका नहीं है। यह विशुद्ध रूप से राज्य सचिवालय द्वारा लिया गया एक प्रशासनिक फैसला है।''

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group