देश

national

समाजवादी पार्टी से एमएलसी प्रत्याशी शिल्पा प्रजापति ने एसपी अमेठी को दिया प्रार्थना पत्र

Wednesday, March 23, 2022

/ by इंडेविन टाइम्स

 

० प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपने ऊपर लगे आरोपों का किया खंडन

० चुनाव को प्रभावित करने के लिए दर्ज कराई गई f.i.r.

० वायरल ऑडियो के आधार पर नहीं की जा सकती एफ आई आर- शिल्पा प्रजापति

अमेठी। 

दो व्यक्तियों की आपस में बात करते हुए फर्जी वायरल ऑडियो के आधार पर समाजवादी पार्टी से एमएलसी पद के उम्मीदवार शिल्पा प्रजापति के ऊपर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की गई । जिसका अमेठी विधायक की पुत्रवधू शिल्पा प्रजापति व उनके परिजनो ने खंडन किया तथा अपने ऊपर लगे आरोपों को निराधार बताया। 

आपको बताते चलें कि  शिल्पा प्रजापति ने पुलिस अधीक्षक अमेठी को प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि वर्तमान समय में 11 सुल्तानपुर स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र पद के लिए समाजवादी पार्टी से शिल्पा प्रजापति प्रत्याशी हैं। जिसमें अनिल प्रजापति उनके निर्वाचन अभिकर्ता हैं उनके पति अनिल प्रजापति के विरुद्ध शादीपुर निवासी क्षेत्र पंचायत सदस्य केतार नाथ पाशी द्वारा मनगढ़ंत एफ आई आर वोटो के खरीद के संबंध में लिखाया गया । दिनांक 21/3 /2022 को नामांकन करने के बाद सायं को कथित घटना के समय शिल्पा प्रजापति अपने परिवार के साथ व सहयोगी बबलू यादव ,सूबेदार  यादव, पवन सिंह, सागर पाल व मंदिर के पुजारी व   विधायिका के सुरक्षाकर्मी के साथ मंदिर दर्शन कर रहे थे ।जिसकी पुष्टि उपस्थित व्यक्तियों के फोन विवरण अथवा मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे से ली जा सकती है। शिल्पा प्रजापति  ने एसपी को दिए प्रार्थना पत्र में उनमें से मांग की है कि उनके पति अनिल प्रजापति को केदारनाथ पासी  व बृजमोहन पासी निवासी शादीपुर मुसाफिरखाना द्वारा झूठ के अभियोग में फंसाने के लिए झूठी घटना को रंजिश रचने व अपराध समय दिखाकर धन प्राप्त करने के संबंध में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की जाए । इसके साथ ही प्रार्थी ने निर्वाचन अभिकर्ता अनिल प्रजापति के विरुद्ध दिनांक 22 /03/2022 को मुकदमा अपराध संख्या 86 / 2022 थाना जगदीशपुर में धारा 188 / 171E व 171 एफ भाजपा प्रत्याशी शैलेंद्र प्रताप ने फर्जी तरीके से रामहेत यादव व इजहार अहमद के फोन ऑडियो रिकॉर्डिंग के आधार पर दर्ज कराया है। जबकि समाजवादी पार्टी व एमएलसी शिल्पा प्रजापति व उनके घर वालों का उनसे कोई भी वास्ता व सरोकार नहीं है ना ही उनके द्वारा फोन पर कोई बात की गई । इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शैलेंद्र प्रताप सिंह विगत मांह तक समाजवादी पार्टी के विधान परिषद सदस्य थे । इनके राम हेत यादव व इजहार अहमद से पहले और आज भी अच्छे संबंध हैं । यह सब आपस में मिलकर चुनाव को प्रभावित करने के उद्देश्य से फर्जी ऑडियो वायरल किए हुए हैं । फर्जी वायरल ऑडियो का मेरे परिवार से कोई संबंध नहीं है जो भी ऑडियो वायरल हुआ है । वह व्यक्तिगत राम हेत यादव व इजहार अहमद ने शैलेंद्र प्रताप सिंह को मदद पहुंचाने के लिए गलत वार्ता करके चुनाव को प्रभावित करने के लिए किया गया है । जिससे मतदाता ना मिल सके इसके साथ ही उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि  शैलेंद्र सिंह शासन-प्रशासन व आयोग को गलत तथ्य के आधार पर मुझे व मेरे पति को गलत मुकदमे में फंसा कर गिरफ्तारी करवाना चाहते हैं। वायरल ऑडियो को जांच करके गलत तरीके से दर्ज किए गए। मुकदमे को निरस्त किया जाए गुस्से से निष्पक्ष रुप से चुनाव हो सके। 

अपने ऊपर लगे आरोपों का खंडन करते हुए शिल्पा प्रजापति ने कहा कि राजनीतिक विद्वेष  व्  बढ़ती लोकप्रियता को देख कर विपक्षी गढ़ तरह-तरह की मनगढ़ंत आरोपों से चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करना चाहते हैं । निष्पक्ष चुनाव होने से विपक्षियों को अपनी जमीन फिसलती नजर आ रही है। यह बातें उन्होंने आवास विकास स्थित अमेठी  सपा कार्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस करके बताइ। इस अवसर अमेठी विधायिका महाराजी प्रजापति ,सपा जिला अध्यक्ष राम उदित यादव, अनुराग प्रजापति, लक्ष्मण यादव ,महावीर कश्यप  ,हरी लाल यादव सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group