देश

national

तंबाकू पीना या चबाना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक -डॉ. संजय कुमार

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी। 

बाकू पीना या चबाना स्वास्थ्य खराब करने वाली सबसे बुरी आदतों में से एक है। सभी इसके जोखिमों के बारे में जानते हैं। बावजूद इसके कई लोग इनका सेवन करना शुरू कर देते हैं। उक्त जानकारी एसीएमओ एवं नोडल अधिकारी डॉ. संजय कुमार ने दी।

उन्होंने बताया कि मुंह और गले का कैंसर तंबाकू की ही देन होती है। कई लोग शौक से तो कई इसके नशे की वजह से इसका सेवन करते हैं। लेकिन दोनों ही सूरतों में तंबाकू किसी भी कीमत पर खाने वाले से दोस्ती नहीं करती है। उन्होंने कहा कि तम्बाकू का किसी भी रूप में और कभी भी उपयोग करना नुकसानदेह ही है। उस पर से कोरोना वायरस चूंकि फेफड़ों को प्रभावित करता है, इससें सिगरेट, गांजा, तम्बाकू का सेवन करने वालों के लिए यह और गंभीर और खतरनाक हो सकता है। क्योंकि कोरोना वायरस मुंह और नाक से निकलने वाली पानी की बारीक छोटी बूंदों के माध्यम से फैलता है और चबाने वाले तम्बाकू का सेवन करने वाले अक्सर इधर-उधर थूकतें हैं। यह खतरनाक वायरस को फैलाने का एक बड़ा खतरा पैदा कर सकता है। इसलिए तंबाकू का सेवन छोड़कर आप कोरोना वायरस से जुड़े खतरे को कम करने के अलावा ज्यादा स्वस्थ रहेंगे और हृदय रोग, कैंसर, फेफड़ों की बीमारियों और तम्बाकू संबंधित दूसरी बीमारियों का खतरा भी आपको कम होगा। तंबाकू एवं गुटखा, बीड़ी सिगरेट के सेवन की बढ़ती प्रवृत्ति से युवाओं एवं जनसामान्य को कैंसर व टीबी की बीमारियों से बचाया जा सकता है।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group