देश

national

जनपद में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान 02 से 30 अप्रैल, 2022 तक किये जाएंगे संचालित

Thursday, March 24, 2022

/ by इंडेविन टाइम्स

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी । 

जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र व मुख्य विकास अधिकारी डा. अंकुर लाठर ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में 02 से 30 अप्रैल 2022 तक चलने वाले विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान तथा 15 से 30 अप्रैल के मध्य दस्तक अभियान को लेकर अंतर्विभागीय समन्वय बैठक कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने संचारी रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए पूरी तैयारी समयबद्ध ढंग से किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के विरुद्ध लड़ाई जारी है। ऐसे में संचारी व विषाणु जनित रोगों के दृष्टिगत किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। उन्होंने कहा कि मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, डायरिया आदि संचारी रोगों से जुडे़ मामलों की आशंका को देखते हुए जनपद में अन्तर्विभागीय समन्वय से युद्धस्तर पर अभियान को आगे बढ़ाया जाए। जिलाधिकारी ने बताया कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान जनपद में 02 से 30 अप्रैल, 2022 तक संचालित किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि आगामी 02 अप्रैल से पहले संचारी रोग नियंत्रण के सम्बन्ध में सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर लें। साप्ताहिक बन्दी के दौरान स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फाॅगिंग का विशेष कार्यक्रम यथावत संचालित किया जाए। तालाबों, नालों व नालियों में एण्टी लार्वा का छिड़काव तथा कूड़े का निस्तारण ठीक ढंग से किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि निगरानी समितियां डोर-टू-डोर सर्वे करें और यदि कोई बच्चा बुखार आदि से ग्रसित है, तो उसे मेडिसिन किट उपलब्ध कराएं। साथ ही, महिलाओं तथा कुपोषित बच्चों को पुष्टाहार उपलब्ध कराया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि बेहतर ड्रेनेज व्यवस्था तथा शुद्ध पेयजल के दृष्टिगत शहर व ग्रामीण क्षेत्र में व्यापक स्तर पर कार्य किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत जनपद में बड़ी संख्या में शौचालय का निर्माण कराया गया है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत व निकायों  द्वारा स्वच्छता, सैनिटाइजेशन, फाॅगिंग व शुद्ध पेयजल के लिए लगातार कार्य किया जाए। ग्रामीण स्तर पर संचारी रोगों के नियंत्रण हेतु तालाबों/नालों व नालियों की साफ-सफाई सुनिश्चित की जाए। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों से संचारी रोगों के नियंत्रण व रोकथाम के सम्बन्ध में किए जा रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त की। साथ ही, उन्होंने चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, नगर विकास, पंचायतीराज, आई0सी0डी0एस0, ग्राम्य विकास, चिकित्सा शिक्षा, शिक्षा, दिव्यांगजन सशक्तीकरण, कृषि, पशुपालन तथा सूचना विभाग को स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय बनाकर संचारी रोगों की रोकथाम व नियंत्रण की कार्यवाही में और तेजी लाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि व्यापक जागरूकता का कार्यक्रम संचालित किया जाए। पोस्टर, हैण्डबिल, इलेक्ट्राॅनिक एवं प्रिण्ट मीडिया के माध्यम से विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाए, इसके अतिरिक्त पंचायत राज विभाग द्वारा प्रत्येक गांव में वॉल पेंटिंग के माध्यम से संचारी रोगों के बचाव के उपायों की भी जानकारी  दिए जाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि जनपद में कोविड वैक्सीन का कार्य युद्धस्तर पर संचालित किया जा रहा है, क्षेत्र में वैक्सीनेशन बढा़ए जाने के लिए लगातार प्रचार-प्रसार कराया जाए और अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीनेट किया जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना का संक्रमण कमजोर हुआ है, लेकिन समाप्त नहीं हुआ है, इसलिए पूरी सतर्कता और कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करना होगा। उन्होंने सभी को निर्देशित किया कि कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन किया जाए। मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से कराया जाए। कहीं भीड़ एकत्र न होने पाए इसके लिए प्रभावी पेट्रोलिंग की जाए। इस मौके पर जिला विकास अधिकारी तेजभान सिंह, परियोजना निदेशक आशुतोष दुबे, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी रामप्रसाद, जिला प्रशिक्षण अधिकारी डॉक्टर सीएस अग्रवाल, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट रितु चौधरी, सचिन यादव, जिला कृषि अधिकारी अखिलेश पांडे, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी सहित अन्य अधिकारी व समस्त एमओआईसी मौजूद रहे।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group