देश

national

हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करती है कांग्रेस- हार्दिक पटेल

नई दिल्ली। 

कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद हार्दिक पटेल लगातार पार्टी और उसके नेताओं पर हमलावर हैं। आज एक ट्वीट कर उन्होंने फिर से कांग्रेस के नेताओं पर निशना साधा है। हार्दिक पटेल ने दावा किया कि कांग्रेस हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करती है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि मैंने पहले भी कहा था की कांग्रेस पार्टी जनता की भावनाओं को ठेस पहुँचाने का काम करती है, हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुक़सान पहुँचाने का प्रयास करती हैं। आज पूर्व केन्द्रीय मंत्री और गुजरात कांग्रेस के नेता ने बयान दिया की राम मंदिर की ईंटों पर कुत्ते पेशाब करते हैं..! हार्दिक ने आगे लिखा कि मैं कांग्रेस और उसके नेताओं से पूछना चाहता हूँ की आपको भगवान श्री राम से क्या दुश्मनी हैं ? हिंदुओ से क्यों इतनी नफरत ? सदियों बाद अयोध्या में भगवान श्री राम का मंदिर भी बन रहा है फिर भी कांग्रेस के नेता भगवान श्री राम के ख़िलाफ़ अनाप-शनाप बयान देते रहते हैं।

इससे पहले हार्दिक पटेल ने कांग्रेस से इस्तीफा देते हुए दावा किया था कि इसके (कांग्रेस के) शीर्ष नेता अपने मोबाइल फोन की स्क्रीन पर कहीं अधिक ध्यान देते हैं और गुजरात कांग्रेस के नेता उन लोगों के लिए ‘चिकन सैंडविच’ की व्यवस्था करने में अधिक रूचि लेते हैं। पटेल (28) का इस्तीफा इस साल के अंत में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले आया है। उन्होंने पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर आरोप लगाया कि वे ऐसा बर्ताव करते हैं, जैसे कि वे गुजरात और गुजरातियों से नफरत करते हों। कांग्रेस छोड़ने से पहले पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे अपने इस्तीफे में उन्होंने कहा था कि वह कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहे हैं। 

हार्दिक पटेल ने कहा कि उन्होंने अपने जीवन के तीन साल ऐसी पार्टी में बर्बाद कर दिए, जो ‘‘जाति की राजनीति’’ करती है। साथ ही, कहा कि अभी उन्होंने आम आदमी पार्टी (आप) या भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने के बारे में कोई निर्णय नहीं लिया है। हालंकि अयोध्या मामले में उन्होंने भाजपा की भूमिका की सराहना की थी और अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निरस्त करने के लिए भी पार्टी (भाजपा) की प्रशंसा की। हालांकि, कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि उन्होंने यह कदम इसलिए उठाया कि उन्हें डर था कि उनके खिलाफ दर्ज देशद्रोह के मामलों में उन्हें जेल जाना पड़ सकता है। विपक्षी दल ने यह भी दावा किया कि पटेल भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group