देश

national

काजिए शरअ सुल्तानपुर ने की मुस्लिम समाज से शांति बनाए रखने की कि मांग

 

कौसर खान-सदर ब्यूरो चीफ 

इंडेविन न्यूज नेटवर्क

सुल्तानपुर। 

सुल्तानपुर काजिए शरअ हजरत मौलाना मोहम्मद महमूद रजवी ने भाजपा के प्रवक्ता के खिलाफ राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। जिसमे भाजपा के प्रवक्ताओं के द्वारा पैगंबर पर टिप्पणी करने के बाद हो रहे। प्रदर्शनों के खिलाफ पुलिस कार्यवाही और घरों पर बुलडोजर चला जाने पर सवाल उठाए, उन्होंने प्रवक्ताओं की गिरफ्तारी की मांग करते हुए मुसलमानों से कहा कि वे संवैधानिक रूप से अपनी बात हकूमत तक पहुंचाएं। किसी भी हाल में देश का माहौल खराब ना होने दें। अपने मीडिया प्रभारी रिजवान अहमद के जरिए जारी किए बयान में काजिए शरअ ने रांची में हुए बवाल की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि झारखंड सरकार से उसकी उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की उन्होंने कहा कि नमाज के बाद निहाथे मुसलमानों पर गोलियां चलाई। जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई है कई लोग अस्पताल में भर्ती हैं और जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन दोहरा रवैया अपना रहा है। मुसलमानों के अलावा दूसरा कोई समुदाय धरना प्रदर्शन करता है तो पुलिस प्रशासन हाथ बांधे खड़ी रहती है। काजिए शरअ ने कहा कि देश में शांतिपूर्ण ढंग से अपनी बात रखने का हक सभी को है, फिर भी पुलिस ने हवाई फायरिंग के नाम पर बेकसूर के सर और सीने को निशाना बनाया।  उन्होंने कानपुर प्रयागराज में घरों पर बुलडोजर चलाने की कार्यवाही पर सवाल खड़े किए और कहा कि जज कोर्ट कचहरी की जगह बुलडोजर ने ले ली है। गुनाह और बेगुनाही का फैसला करना कोर्ट का काम है ना कि हकूमत का भाजपा अपने प्रवक्ताओं के खिलाफ वक्त रहते कार्रवाई करके जेल डाल देती तो इस तरह का माहौल पैदा नहीं होता। इस मौके पर मौलाना मोहम्मद अहमद वारसी,मौलाना अकबर अली, मौलाना अब्दुल कादिर, मौलाना अब्दुल रहमान, गुलाम दस्तगीर हाफिज हैदर आदि मौजूद रहे। सभी ने मुस्लिम समाज से निवेदन किया की किसी तरह का माहौल खराब ना करे संवैधानिक रूप से अपनी बात हकूमत तक पहुंचाएं। 

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group