देश

national

सचिव महिला एवं बाल विकास/ नोडल अधिकारी की अध्यक्षता में वृहद वृक्षारोपण अभियान हेतु तैयारी बैठक हुई आयोजित

० ’’वन महोत्सव’’ को जन उत्सव के रूप में मनाकर किया जाए वृहद वृक्षारोपण- सचिव।

० पेड़ लगाने के साथ ही उनका रखरखाव भी जरूरी- सचिव

० निर्माणाधीन कलेक्ट्रेट स्थित वृक्षारोपण स्थल का किया निरीक्षण एवं दिए आवश्यक निर्देश

० ’’वन महोत्सव’’ के अवसर पर 5, 6, 7 जुलाई एवं 15 अगस्त, 2022 को जनपद में होगा वृहद वृक्षारोपण- जिलाधिकारी

हरिकेश यादव-संवाददाता (इंडेविन टाइम्स)

अमेठी।

’’वन महोत्सव’’ को सफल बनाये जाने हेतु शासन द्वारा नामित नोडल अधिकारी/सचिव महिला एवं बाल विकास  अनामिका सिंह की अध्यक्षता में सोमवार को ’’वन महोत्सव’’ के अवसर पर वृहद वृक्षारोपण अभियान हेतु तैयारी बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में नोडल अधिकारी ने तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि 5 जुलाई को होने वाले वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम को लेकर सभी तैयारियां पूर्व से ही पूर्ण कर ली जाएं। उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तहत ’’वन महोत्सव’’ के अन्तर्गत जिले में 5, 6, 7 जुलाई एवं 15 अगस्त को वृहद पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। 5 जुलाई को प्रातः 6:00 से शाम 6:00 बजे तक पौधरोपण किया जाएगा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी वृक्षारोपण स्थल पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, विधायक, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत प्रमुख एवं सदस्य, ग्राम प्रधान एवं ग्राम पंचायत सदस्य को आमंत्रित करके वृक्षारोपण कार्य का शुभारम्भ कराया जाए। 

इस कार्यक्रम को जन आन्दोलन का रूप देकर ’’वन महोत्सव’’ को उत्सव के रूप में मनाकर लक्ष्य के अनुरूप वृक्षारोपण सुनिश्चित कराया जाए। पौधरोपण के साथ-साथ पौधों की देखभाल हेतु मुकम्मल व्यवस्था किया जाए। बैठक के दौरान नोडल अधिकारी ने निर्देश दिया कि वन विभाग के अतिरिक्त अन्य विभागों द्वारा वृक्षारोपण कराये जायेंगे। सभी विभागाध्यक्ष सभी चिन्हित स्थलों पर वृक्षारोपण कर रिपोर्ट प्रेषित करेंगे। उन्होंने कहा कि जिले में सामुदायिक स्थल एवं ग्राम पंचायतों में वृक्षारोपण कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि वृक्षारोपण को जन आन्दोलन का रूप देते हुए लक्ष्य को पूरा किया जायेगा। उन्होने निर्देश दिया कि प्रत्येक ग्राम पंचायतों में अमृत उद्यान लगाये जायेंगे। उन्होने कहा कि 15 अगस्त, 2022 तक लक्ष्य की पूर्ति हेतु महाविद्यालयों, इण्टर कालेजों एवं परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं से उनके सुविधा अनुसार विद्यालयों/ग्राम पंचायतों में वृक्षारोपण हेतु निर्धारित किये गये कार्ययोजना/जियो टैगिंग वाले स्थलों पर वृक्षारोपण कराकर लोगों को वृक्षारोपण करने हेतु प्रेरित किया जाए। वन महोत्सव कार्यक्रम में सरकारी विभागों से सम्बद्ध गैर सरकारी विद्यालयों एवं स्वयं सेवी संस्थाओं को भी प्रेरित कर वृक्षारोपण कराया जाय। उन्होने निर्देश दिया की सभी विभाग आपस में समन्वय बनाकर इस अभियान को सफल बनायें। 

बैठक में जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने बताया कि ’’वन महोत्सव’’ के अवसर पर 5, 6, 7 जुलाई एवं 15 अगस्त, 2022 को जनपद में वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। कार्यक्रम के तहत जिले में कुल लक्ष्य 5103600 पौधे लगाये जायेंगे। जिसके लिए समस्त विभागो द्वारा वृक्षारोपण जन आन्दोलन 2022 हेतु निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष गड्ढा खुदान का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। वृक्षारोपण लक्ष्य के सापेक्ष जनपद की 26 पौधशालाओं में 60.88 लाख पौधे तैयार किये गये है। जिसमें मुख्यतः सागौन, आम, अमरूद, आंवला, करौदा, इमली, सहजन, कदम्ब, चिलबिल, बालमखीरा, पीपल, पाकड़, बरगद, जामुन, अर्जुन, इमली आदि सम्मिलित है। सभी विभागो से वृक्षारोपण लक्ष्य के सापेक्ष कार्ययोजना प्राप्त कर उनकी मांग के अनुरूप पौध आपूर्ति आदेश जारी कर विभागो को प्राप्त करा दिये गये है। उन्होने यह भी बताया कि वन महोत्सव कार्यक्रम जन आन्दोलन के रूप में मनाकर उत्सव के महौल में जिले में वृहद वृक्षारोपण कराया जायेगा। 

जिले में  जनप्रतिनिधियों, विभिन्न विभागों  के अधिकारियों/कर्मचारियों, स्वयं सेवी संस्थाओं एवं स्कूली बच्चों को भी वन महोत्सव कार्यक्रम में जोड़कर वृक्षारोपण कराकर लक्ष्य पूरा किया जायेगा। बैठक के उपरांत नोडल अधिकारी ने जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी के साथ निर्माणाधीन कलेक्ट्रेट स्थित वृक्षारोपण स्थल का निरीक्षण किया एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व एके सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक वीके पांडे, प्रभागीय वन अधिकारी एमएन सिंह, जिला विकास अधिकारी तेजभान सिंह, परियोजना निदेशक डीआरडीए आशुतोष दुबे, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट सचिन यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी श्रीकांत यादव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ अरविंद पाठक, समस्त खंड विकास अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group