देश

national

भारत अब दुनिया का ताकतवर देश- राजनाथ सिंह

Tuesday, August 30, 2022

/ by इंडेविन टाइम्स

जयपुर। 

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार का कहा कि भारत अब कमजोर नहीं बल्कि दुनिया का ताकतवर देश बन गया है जो 2047 तक विश्व गुरु बनेगा। सिंह ने कहा कि भारत ने आज तक दुनिया के किसी देश पर कभी आक्रमण नहीं किया लेकिन अगर किसी ने भारत की ओर आंख उठाकर बुरी नजर से देखने की कोशिश की तो भारत ने उसका मुंहतोड़ जवाब दिया है। उन्‍होंने कहा कि केंद्र की मौजूदा सरकार भारत के मान सम्मान स्वाभिमान को किसी भी कीमत पर झुकने नहीं देगी। वे राजस्‍थान के उदयपुर शहर में पन्नाधाय की प्रतिमा के लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे। सिंह ने कहा,‘‘हमको भी एक संकल्प लेना है, हमें भारत को एक सशक्त व ताकतवर देश बनाना है। और भारत का रक्षा मंत्री होने के नाते मैं कहना चाहता हूं कि भारत अब एक कमजोर भारत नहीं रहा, भारत अब दुनिया का ताकतवर देश बन गया है।’’ उन्‍होंने कहा, ‘‘भारत का इतिहास रहा है... भारत ने आज तक दुनिया के किसी देश पर न तो कभी आक्रमण किया और न ही दुनिया के किसी देश की एक इंच जमीन पर कभी कब्‍जा किया। यह भारतवासियों का चरित्र रहा है लेकिन भारत की ओर आँख उठाकर किसी ने बुरी नजर से देखने की कोशिश की तो भारत ने उसका मुंहतोड़ जवाब दिया है।’’ 

जम्मू कश्मीर के उरी और पुलवामा में आतंकी हमले का जिक्र करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा, ‘‘आपको बतलाना चाहता हूं कि भारत की ताकत पर विश्वास रखिएगा... आपने देखा पाकिस्तान के दो आतंकवादियों ने आकर हमारी पैरा मिलिट्री फोर्सेज के जवानों पर कातिलाना हमला कर दिया ....उरी और पुलवामा की घटना से आप सभी परिचित हैं। मैं उस घटना की चर्चा करता हूं तो याद आता है वह दिन क्‍या मेरे उपर गुजरी जब मैं अपने पैरा मिलिट्री फोर्सेज के शहीद जवानों के शव अपने कंधे पर लेकर चल रहा था।’’ उन्‍होंने कहा, ‘‘लेकिन उसके बाद आपने देखा कि हमारे प्रधानमंत्री ने, कैसा बहादुर प्रधानमंत्री… 56 इंच के कलेजे का प्रधानमंत्री... उन्‍होंने हम दो तीन मंत्रियों को बुलाकर झटपट पांच मिनट में फैसला कर दिया और हमारी सेना के जवान भारत की धरतीनहीं बल्कि पाकिस्तान की धरती पर जाकर आतंकवादियों का पूरी तरह से सफाया करने में पूरी तरह से कामयाब रहे।’’ सिंह ने कहा,‘‘यह है भारत की ताकत। भारत दुनिया के सभी देशों को अपना परिवार मानता है। भारत दुनिया का अकेला देश है जिस देश के रहने वाले र‍िषियों व मनीषियों ने भारत की सीमा में रहने वाले लोगों को ही अपने परिवार के सदस्यों को ही नहीं, बल्कि विश्व की धरा पर रहने वाले सभी लोगों को अपने परिवार का सदस्य मानते हुए दुनिया को वसुधैव कुटुंबकम का संदेश दिया। इसलिए हम लोगों ने आज तक न तो दुनिया के किसी देश पर आक्रमण किया न ही किसी की एक इंच जमीन पर कब्जा किया।’’ उन्होंने कहा,‘‘मैं कहना चाहता हूं कि इस समय की सरकार के बारे में, यकीन रखना मेरे बहनों भाइयोंभारत का मान सम्मान स्वाभिमान हम किसी भी कीमत पर झुकने नहीं देंगे। यह ऐसी सरकार है जो मोदी जी के नेतृत्व में काम कर रही है।’’ उन्‍होंने कहा कि यूक्रेन संकट के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने रूस, यूक्रेन व अमेरिका के राष्‍ट्रपति से टेलीफोन पर बात की जिससे युद्ध कुछ घंटे रुका और वहां फंसे 22500 भारतीय नौजवानों को निकाला गया। 

सिंह ने इसे ‘न भूतो न भविष्‍यति’ वाली घटना बताया। उन्‍होंने कहा, ‘‘हम भारत को आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं। दूसरों की कृपा पर अब भारत नहीं चलेगा। अब हमने फैसला कर लिया है, समय निर्धारित किया है कि अब हम बंदूक, राइफल, गोला बारूद, तोप व मिसाइल दुनिया के देशों से नहीं खरीदेंगे बल्कि कुछ समय बाद वह भारत में भारतवासियों के हाथों से बनेगा।’’ सिंह ने कहा कि भारत की बेरोजगारी का संकट भाषण देने से समाप्त नहीं होगा। उन्होंने कहा, ‘‘कलेजा मजबूत करके कुछ फैसले लेने से ही भारत के नौजवानों को रोजगार मिलेगा, वह हमारे प्रधानमंत्री जी काम कर रहे हैं।’’ उन्‍होंने कहा,‘‘भारत एक ‘ग्लोबल लीडर’ के रूप में अपने प्रधानमंत्री के कारण ही सामने आया है। हमारे प्रधानमंत्री की छवि भी ग्लोबल लीडर की बनी है। इस सचाई को भी हमें स्वीकार करना पड़ेगा। मैं कहना चाहता हूं कि आप भारत को विश्व गुरु बनाना चाहते हैं ना...सुन लेना... हिम्मत के साथ आप अपने कदम बढ़ाएं ...25 साल का समय लगेगा इससे ज्यादा समय नहीं लगेगा… (आजादी का) अमृत काल समाप्त होते-होते, 2047 आते-आते भारत पुनः विश्व गुरु के पद पर आसीन होगा।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group