देश

national

मुंबईवासियों को पीएम मोदी की बड़ी सौगात, आज करेंगे अटल सेतु का उद्घाटन

नई दिल्ली।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव से पहले मुंबई को बड़ी सौगात देने जा रहे हैं। पीएम मोदी शुक्रवार को भारत के सबसे लंबे ब्रिज का उद्घाटन करेंगे। मुंबई और नबी मुंबई के बीच बने मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक (MTHL) के साथ-साथ पीएम मोदी अन्य कई परियोजनाओं की सौगात देंगे। मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक (MTHL) को अटल बिहारी वाजपेयी सेवारी -न्हावा शेवा ‘अटल सेतु' नाम दिया गया है। भारत में निर्मित सबसे लंबा पुल और सबसे लंबा समुद्री पुल भी है। इस पुल का शिलान्यास भी दिसंबर 2016 में प्रधानमंत्री मोदी ने किया था।

6 लेन पुल 17,840 करोड़ की लागत से हुआ है तैयार

पीएमओ ने कहा कि 'अटल सेतु' का निर्माण कुल 17,840 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से किया गया है, यह लगभग 21.8 किमी लंबा 6-लेन पुल है जिसकी लंबाई समुद्र के ऊपर लगभग 16.5 किमी और जमीन पर लगभग 5.5 किमी है। यह मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे और नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को तेज़ कनेक्टिविटी प्रदान करेगा और मुंबई से पुणे, गोवा और दक्षिण भारत की यात्रा के समय को भी कम करेगा। अधिकारियों ने कहा कि इससे मुंबई बंदरगाह और जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह के बीच कनेक्टिविटी में भी सुधार होगा।

पीएम नवी मुंबई में सार्वजनिक कार्यक्रम में 12,700 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन, राष्ट्र को समर्पित और शिलान्यास भी करेंगे। प्रधानमंत्री ईस्टर्न फ्रीवे के ऑरेंज गेट को मरीन ड्राइव से जोड़ने वाली भूमिगत सड़क सुरंग की आधारशिला रखेंगे। अधिकारियों ने कहा कि 9.2 किलोमीटर लंबी सुरंग 8,700 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाई जाएगी और यह मुंबई में एक महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा विकास होगा, जिससे ऑरेंज गेट और मरीन ड्राइव के बीच यात्रा का समय कम हो जाएगा।

प्रधानमंत्री सूर्या क्षेत्रीय थोक पेयजल परियोजना का पहला चरण राष्ट्र को समर्पित करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि 1,975 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित यह परियोजना महाराष्ट्र के पालघर और ठाणे जिले को पेयजल आपूर्ति प्रदान करेगी, जिससे लगभग 14 लाख आबादी को लाभ होगा। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री करीब 2,000 करोड़ रुपये की रेलवे परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इनमें 'उरण-खारकोपर रेलवे लाइन के चरण 2' का समर्पण शामिल है, जो नवी मुंबई से कनेक्टिविटी बढ़ाएगा क्योंकि नेरुल/बेलापुर से खारकोपर के बीच चलने वाली उपनगरीय सेवाओं को अब उरण तक बढ़ाया जाएगा।

राष्ट्र को समर्पित की जाने वाली अन्य रेल परियोजनाओं में ठाणे-वाशी/पनवेल ट्रांस-हार्बर लाइन पर एक नया उपनगरीय स्टेशन 'दीघा गांव' और खार रोड और गोरेगांव रेलवे स्टेशन के बीच नई 6वीं लाइन शामिल है। इन परियोजनाओं से मुंबई के हजारों दैनिक यात्रियों को लाभ होगा।

पीएमओ के मुताबिक, प्रधानमंत्री सांताक्रूज इलेक्ट्रॉनिक एक्सपोर्ट प्रोसेसिंग जोन- स्पेशल इकोनॉमिक जोन (SEEPZ SEZ) में रत्न और आभूषण क्षेत्र के लिए 'भारत रत्नम' (मेगा कॉमन फैसिलिटेशन सेंटर) का उद्घाटन करेंगे। यह भारत में अपनी तरह की पहली मशीन है जिसमें 3डी मेटल प्रिंटिंग सहित दुनिया की सबसे अच्छी उपलब्ध मशीनें हैं। इसमें विशेष रूप से विकलांग छात्रों सहित इस क्षेत्र के कार्यबल के कौशल के लिए एक प्रशिक्षण स्कूल होगा। मेगा सीएफसी रत्न और आभूषण व्यापार में निर्यात क्षेत्र को बदल देगा और घरेलू विनिर्माण को भी मदद करेगा।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group