देश

national

मौसम विभाग ने दी वाहन चलाते समय सावधानी बरतने की सलाह

लखनऊ।

उत्तर भारत के गांगेय इलाके में रविवार को कोहरे की परत छाई रही और कई स्थानों पर दृश्यता शून्य मीटर रही। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने लोगों को अनावश्यक यात्रा से बचने और वाहन चलाते समय सावधानी बरतने की सलाह दी है। रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि कोहरे से दिल्ली आने वाली 22 ट्रेन प्रभावित हुई हैं। उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों में घने कोहरे की एक परत दिखाई दी जो पंजाब और उत्तरी राजस्थान से उत्तर-पूर्व तक फैली हुई है। पूर्वी तट पर भी कहीं-कहीं कोहरा दिखाई दिया। 

आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि शनिवार रात 10 बजे से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और उत्तर प्रदेश में घना कोहरा छाया रहा। उन्होंने बताया ‘‘सर्दी के इस मौसम में यह पहली बार है कि अमृतसर से डिब्रूगढ़ तक गंगानगर, पटियाला, अंबाला, चंडीगढ़, दिल्ली, बरेली, लखनऊ, बहराईच, वाराणसी, प्रयागराज और तेजपुर (असम) में दृश्यता शून्य मीटर रही।'' उन्होंने कहा "यह इस मौसम में घने कोहरे की सबसे लंबी अवधि रही। साथ ही, यह अब तक का सबसे घना कोहरा है।" 

आईएमडी ने कहा कि यात्रियों को राजमार्गों पर गाड़ी चलाते समय बेहद सावधानी बरतनी चाहिए और फॉग लाइट का इस्तेमाल करना चाहिए। सुबह 5:30 बजे, पटियाला, अंबाला, बहराईच (यूपी), पूर्णिया (बिहार), और पालम (दिल्ली) में दृश्यता का स्तर 25 मीटर और अमृतसर, चंडीगढ़, सफदरजंग (दिल्ली), बरेली, लखनऊ में 50 मीटर था। वाराणसी, डिब्रूगढ़, और तेजपुर (असम)गुवाहाटी (असम), कैलाशहर और अगरतला (त्रिपुरा) में दृश्यता स्तर 200 मीटर दर्ज किया गया। दिल्ली में इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास पालम वेधशाला में सुबह पांच बजे तक घना कोहरा छाया रहा और दृश्यता का स्तर शून्य मीटर रहा।

Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group