देश

national

'कुछ लोग जाति और मजहब के आधार पर समाज को बांटना चाहते हैं' - सीएम योगी

लखनऊ ।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी लोकसभा चुनाव को 'फैमिली फर्स्ट' की बात करने वाले विपक्ष और 'नेशन फर्स्ट' की बात करने वाले सत्तापक्ष के बीच का मुकाबला करार देते हुए बुधवार को दावा किया कि विपक्ष भ्रष्टाचार का पक्षधर है जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस मामले में ‘कतई बर्दाश्त नहीं' के पक्षधर हैं।

मुख्यमंत्री ने मथुरा में आयोजित 'प्रबुद्ध सम्मेलन' को संबोधित करते हुए विपक्ष पर हमला किया और कहा, '' एक पक्ष (विपक्ष) के लिए परिवार पहले है तो मोदी जी के नेतृत्व में जो पक्ष है उसके लिए राष्ट्र पहले है। परिवार पहले मानने वाला पक्ष अपने कृत्य से माफिया राज को प्रश्रय देता है जबकि मोदी जी का पक्ष कानून के राज को प्रभावी ढंग से लागू करने का काम करता है।'' उन्होंने कहा, ''माफिया राज को प्रश्रय देने वाला एक पक्ष भ्रष्टाचार का पक्षधर है और मोदी जी का पक्ष कतई बर्दाश्त नहीं का है ।

एक पक्ष तुष्टीकरण के नाम पर व्यक्ति, जाति, मत और मजहब के आधार पर समाज को बांटना चाहता है, लेकिन मोदी जी के नेतृत्व वाला पक्ष सबका साथ, सबका विकास के माध्यम से गरीब कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के हर एक तबके को देने का पक्षधर है।'' उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री के दूसरे कार्यकाल में भारत विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनी। मोदी के तीसरे कार्यकाल में देश की अर्थव्यवस्था को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य है।

बाद में मेरठ में आयोजित 'प्रबुद्ध सम्मेलन' को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि तीन दशक पहले जिस तरह अरुण गोविल ने छोटे पर्दे पर रामायण में मजबूती के साथ श्रीराम के किरदार को जीवंत किया था, आज वो मेरठ की पहचान बनने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अरुण गोविल अब मेरठ में इतिहास रचेंगे, क्योंकि मेरठ इतिहास में दर्ज नहीं होता, बल्कि ये हमेशा इतिहास रचता है। योगी ने चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी अरुण गोविल के पक्ष में मतदान की अपील की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने गरीब कल्याण को प्राथमिकता दी है लेकिन, विपक्ष ने हमेशा जातिवाद को प्राथमिकता दी ।

Next Story Older Post Home
Don't Miss
© all rights reserved
Managed By-Indevin Group